Friday, June 24, 2016

714

स्नेह-सिंचन

कहकशाँ हाइबन आदरणीया सुधा गुप्ता को उनके 82 वें जन्म दिन पर त्रिवेणी परिवार की तरफ़ से एक छोटा सा उपहार था ,जो समय के अभाव से कुछ दिनों की देरी से उनको भेंट किया गया। 
18मई, 1934 में जन्म, 83 वें वर्ष में पदार्पण कर चुकी डॉ सुधा गुप्ता जी ने 12 वर्ष की अवस्था से काव्य -रचना शुरू कर दी थी । अब तक आप ने बालगीत,कविता संग्रह, शोध , हाइकु ,ताँका, चोका  आदि  विभिन्न विधाओं में लिखा है और कई पुस्तकें प्रकाशित हो चुकी हैं । हाइकु की विधा में जब गुणात्मक रचना -संसार की बात आएगी तो शीर्ष पर आपका ही नाम आएगा ।इस विधा में समर्पण का जुनून ही कहिए कि  ‘अकेला था समय’ ग्रन्थ आपके हस्तलेख में होने के साथ-साथ आपके द्वारा बनाए गए चित्रों से सुसज्जित है । आपको  ‘प्राइड ऑफ़ मेरठ’ का सम्मान भी मिल चुका है । 

कभी वह किणमिण उजाले  में बैठकर धूप से गपशप करती है और कभी उसके हिस्से में आई चुलबुली रात ने कोरी मिट्टी  के दिए जलाकर ओक भर किरणें  से खुशबू का सफ़र तय किया है। अपने कलात्मक करिश्मों से वह मुहांदरा चमकाती गई जब कभी अकेला था समय। उसकी नई मंजिलों के दस्तावेज़ महज लफ्ज़ नहीं बल्कि उसके सफ़र छाले हैं 
अपनी शारीरिक अस्वस्थता एवं अ्समर्थता के बावजूद अपनी प्रतिक्रिया इस पत्र द्वारा भेजी है जिसे पाकर हम धन्य हो गए। 

















त्रिवेणी परिवार आपके सुखद ,स्वस्थ जीवन की कामना करता है  ! आपका आशीर्वाद सदा सबको मिलता रहेगा ।


                                

15 comments:

Anita Lalit (अनिता ललित ) said...

आदरणीया सुधा दीदी जी को हार्दिक शुभकामनाएँ ! हम आपके स्वस्थ, सुखमय, संतुष्ट दीर्घायु जीवन के लिए ईश्वर से सदा प्रार्थना करते हैं। साथ ही यह भी कि आपकी लेखनी अनवरत चलती रहे और हम सभी को आपका मार्गदर्शन, स्नेह एवं आशीर्वाद मिलता रहे !
~सादर नमन के साथ
अनिता ललित

Subhash Chandra Lakhera said...

हार्दिक शुभकामनाएँ ! आपके स्वस्थ, सुखमय, संतुष्ट दीर्घायु जीवन के लिए ईश्वर से सदा प्रार्थना !
- - सुभाष चंद्र लखेड़ा

Savita Aggarwal said...

आदरणीय सुधा जी के सुखमय और स्वस्थ जीवन की शुभकामना करते हैं आपके लेखन से सीखते रहें आप सदा सानन्द रहें ।

Manju Gupta said...

आदरणीया सुधा दीदी जी को जन्मदिन की मेरी हार्दिक शुभकामनाएँ !

आपकी कलम से हम सब को यूँ ही आशीषें मिलती रहे .
जीवेत शरदः शतम का लगे मंत्र प्यारा .

सादर नमन के साथ
मंजू

Kamla Ghataaura said...

आदरनीया सुधी दीदी अनेकानेक शुभ कामनायें आप के जन्मदिन पर ।आप स्वस्थ रहें अपनी लेखनी से काव्य रस बरसाती रहें ।हम मुग्ध होकर पढ़ते रहें ।

Pushpa Mehra said...


परम आदरणीया सुधा दीदी को आपके जन्म दिन की हार्दिक शुभकामनाएँ,ईश्वर आपको पूर्ण स्वस्थ एवं सुखी रखे,एक बात मेरे मन में उभरी है कि वह समय जो कभी भी अकेला नहीं रहता न ही किसी को अकेला छोड़ता है उसके भी किसी कोने से आपकी प्रतिभा ने 'अकेला था समय'की नब्ज़ टटोल कर उसे प्यार से सदा के लिए अपने हस्तलेख की सचित्र धरोहर दी,कामना करती हूँ कि आपकी कुशल-सशक्त लेखनी भविष्य में भी हर विधा को अपनी सौगात देती रहें और हम पाठक उसका किंचित अंश पाकर झूम-झूमकर उसका आनन्द उठाते रहें |

पुष्पा मेहरा

sushila said...

आदरणीय सुधा दी को जन्मदिन की हार्दिक बधाई ! उनके स्वास्थ्य, सुखद और रचनात्मकता से भरपूर जीवन के लिए प्रभु से करबद्ध प्रार्थना है।
वे हमारे लिए प्रेरणा का स्त्रोत हैं।
हरदीप जी को भी सुंदर भेंट के लिए बहुत-बहुत बधाई !

sushila said...
This comment has been removed by the author.
Sudershan Ratnakar said...

आदरणीय सुधा दीदी को जन्मदिवस की हार्दिक शुभकामनाएँ ईश्वर आपको स्वस्थ रखे । आपकी लेखनी अनवरत चलती रहे और हम आपसे प्रेरणा पाते रहें।

सुनीता शर्मा said...
This comment has been removed by the author.
Kashmiri Lal said...

बधाई

jyotsana pardeep said...

परम आदरणीया सुधा जी आप हमेशा स्वस्थ तथा सुखी रहें ..आप बहुत प्यारा लिखती हैं ..अपनी लेखनी की सुधा बस इसी तरह छलकाती रहें .
-अनगिन शुभकामनाओं के साथ.. तथा

आशीर्वाद के लिए सर झुकाये-

ज्योत्स्ना प्रदीप


डॉ. जेन्नी शबनम said...

आदरणीया सुधा जी को जन्मदिन पर शुभकामनाओं के साथ बधाई. आपकी हस्तलिपि देखकर मन अभिभूत हुआ. आपकी लेखनी में बस जादू है. आप स्वस्थ व दीर्घायु हों और अपनी लेखनी से हम सभी को आशीष देती रहें.

ज्योति-कलश said...

yah mani-kaanchan sanyog hamaare liye anupam , iishwar kaa varadaan hai !
saadar naman aap donon ke liye !! bahut shubhkaamanaayen !!

प्रियंका गुप्ता said...

इतनी प्यारी चिठ्ठियों वाली पोस्ट मुझसे कैसे छूट गई, इसका स्पष्टीकरण नहीं दूँगी...| सिर्फ एक क्षमा...| बस आदरणीया सुधा जी के इन दो पत्रों में छलकती आत्मीयता भले आपके लिए रही हो हरदीप जी, पर उनके भाव हमारे दिलों तक भी पहुंचे...|
आदरणीय सुधा जी पूर्णतया स्वस्थ रहते हुए शतायु हों, ईश्वर से हमेशा यही प्रार्थना रहेगी...|
अभिनन्दन...!