Sunday, July 26, 2015

सुख-दुख साथ जिएँ



प्रियंका गुप्ता
1
रुत बहुत सुहानी है
तुमसे मिलते ही
कलियाँ खिल जानी है ।
2
कितनी सूनी रातें
थोड़ा चैन मिला
पी लीं तेरी बातें ।
3
मुश्किल तो जीना है
तेरा साथ रहे
हर ग़म को पीना है ।
4
सुनसान डगर मेरी
चलते जाना है
तूने अँखियाँ फेरी ।
5
छोटा -सा बच्चा है
बातें समझ -भरी
न अकल का कच्चा है ।
6
काटे जो पेड़ यहाँ
इक दिन होगा वो
ढूँढोगे साँस कहाँ ।
7
जो प्रीत निभाई है
सुख-दुख साथ जिएँ
अब कसम उठाई है ।
8
कब ऐसा था जाना
तुझसे प्रीत हुई
जग लगता बेगाना ।
-0-

18 comments:

प्रियंका गुप्ता said...

आज यहाँ मेरे माहिया को स्थान मिला, बहुत बहुत शुक्रिया...| पर इसका सारा श्रेय तो आदरणीय काम्बोज अंकल को जाता है क्योंकि जाने कब से मैं भी माहिया लिखना चाह रही थी, पर मात्रा गिनना मुझे बहुत कठिन लगता था | पर ये सिर्फ कम्बोज अंकल का मेरे ऊपर विश्वास था जिसकी वजह से न केवल अपना बहुत सारा समय देकर उन्होंने मुझे इसकी बारीकियां समझाई, बल्कि एक गुरू की तरह ही मुझे माहिया का होमवर्क भी दे दिया...जिसका सुखद परिणाम आप सबके सामने है...|
अभिभूत हूँ ऐसे पिता समान शख्सियत का स्नेहपात्र बन के...|

anita manda said...

प्रियंका जी बहुत सुंदर भावों से सजे माहिया । बधाई।

Kashmiri lal said...

सुंदर भावो का बहन

ज्योति-कलश said...

बहुत सुन्दर भाव भरे माहिया प्रियंका जी

हार्दिक बधाई !

Krishna said...

कितनी सूनी रातें
थोड़ा चैन मिला
पी लीं तेरी बातें।......बहुत सुन्दर!
प्रियंका जी बहुत बधाई!

Dr.Bhawna said...

Sabhi mahiya sneh page lage hardik badhai ...

सहज साहित्य said...

प्रिय बेटी ! मैंने तो संकेत भर किया था। आप इतनी गुणी हैं कि आपने एक झटके में मनमोहक माहिया रच दिए।
गद्य और पद्य में आपकी गहरी पकड़ है। मेरे ज़रा से निर्देश को जो सम्मान दिया उसके लिए अनुगृहीत हूँ।

Anita Lalit (अनिता ललित ) said...

सुंदर माहिया ! विशेषकर--

मुश्किल तो जीना है
तेरा साथ रहे
हर ग़म को पीना है । --बहुत सुंदर !

हार्दिक बधाई प्रियंका गुप्ता जी!

~सादर
अनिता ललित

Rekha said...

भावभरे माहिया के लिए बहुत बहुत बधाई ।

मेरा साहित्य said...

मुश्किल तो जीना है
तेरा साथ रहे
हर ग़म को पीना है ।
bahut sunder likha hai
rachana

Savita Aggarwal said...

प्रियंका जी बहुत सुन्दर भावों से परिपूर्ण माहिया लिखे हैं हार्दिक बधाई |

meri_rachnayen said...

Priyanka Ji aisi bhavpurn rachna hetu badhayi aur shubhkamnayen.

meri_rachnayen said...

Priyanka Ji aisi bhavpurn rachna hetu badhayi aur shubhkamnayen.

meri_rachnayen said...

Priyanka Ji aisi bhavpurn rachna hetu badhayi aur shubhkamnayen.

meri_rachnayen said...

Priyanka Ji aisi bhavpurn rachna hetu badhayi aur shubhkamnayen.

meri_rachnayen said...

Priyanka Ji aisi bhavpurn rachna hetu badhayi aur shubhkamnayen.

meri_rachnayen said...

Priyanka Ji aisi bhavpurn rachna hetu badhayi aur shubhkamnayen.

प्रियंका गुप्ता said...

एक बार फिर से शुक्रिया काम्बोज अंकल...|
आप सभी का बहुत आभार मेरा ऐसे उत्साहवर्धन करने के लिए...|